बजट बनाने के अलावा महिलाएं बहुत कुछ कर सकती हैं - Money Sanchay

बजट बनाने के अलावा महिलाएं बहुत कुछ कर सकती हैं

बजट बनाने के अलावा  महिलाएं बहुत कुछ कर सकती हैं 

आज के दौर में महिलाये हर क्षेत्र में पुरुषों से बहुत आगे निकल रही हैं चाहे वो पढाई का क्षेत्र हो या विज्ञान या फिर व्यापर अरुंधती भट्टाचार्य , इदिरा नूई इसकी उदारण हैं | ऐसा कहाँ अतिशयोक्ति नहीं होगी कि २१वि सदी महिलाओं की होगी | 
कामयाबी के इस दौर में पढ़ी लिखी ऐसी महिलाएं जो घर पर रहकर अपने परिवार का देखभाल करती हैं अक्सर देखने में आता है वो अपने परिवार के अर्थव्यवस्था से कोई लेना देना नहीं रखती हैं, इससे आपके परिवार को क्या परेशानी हो सकती है मैं एक उदारहरण के माधयम से समझाना चाहूँगा –
गोरखपुर के रमेश कुमार दुर्भाग्य से एक हादसे में अनहोनी का शिकार हो गए! उनके परिवार पर तो मानो वज्रपात ही होगया क्योंकि उनकी उम्र मात्र 25 वर्ष ही थी और उनके 2 छोटे बच्चे भी थे | रमेश कुमार ने अपने परिवार कि आर्थिक सुरक्षा के लिए कई जगह निवेश कर रखा था, कहीं जैसा अक्सर होता है उनकी पत्नी को इसकी कोई जानकारी नहीं थी | चूँकि वो हाउसवाइफ थी तो उन्हें अपने परिवार के पालन पोसण के लिए बहुत संघर्ष करना पड़ता है | अब रमेश जी कि पत्नी को वितीय मामलों में बहुत सजग रहना परेगा | 
इस तरह के वित्तीय मामलों कि  परेशानी से बचने के लिए हर महिला को इन बातों का ध्यान रखना चाहिए –
 1. पति द्वारा निवेश से जुड़े  दस्तावेजों कि फोटोकॉपी :- मेदिक्लैम, लाइफ इंश्योरेंस, पीपीएफ पासबुक, म्यूच्यूअल फण्ड, शेयर मार्किट, FD आदि निवेश से जुड़े रभी दस्तावेजों का फोटोकॉपी कराकर अपने पास जरुर रखना चाहिए |
2. जॉइंट होल्डर बने :- आप अपने पति के साथ निवेश से जुड़े खातों में जॉइंट होल्डर बन सकती हैं आजकल सभी प्रकार के खतों में ये सुविधा उपलब्ध है |
3 . नॉमिनी बनें :- पत्नी को इस बात का पूरा ध्यान रखना चहिउए कि वो पति द्वारा निवेश किये गए सभी दस्तावेजो में नॉमिनी के रूप में उपस्थित रहे |
4. क्लेम कि पूरी प्रक्रिया कि :- पत्नी को निवेश से जुड़े उन सब नियमों एवं शर्तों कि जानकारी रखनी चाहिए जो क्लेम से जुडी हुई हो |
5 वसीयत बनवाएं :- वसीयत व्यक्ति के न रहने पर परिवार को भविष्य के  संभावित विवादों से बचाता है इस लिए पत्नी को पति के साथ बैठकर वसीयत जरुर बार जब भी वसीयत बनवाना चाहिए |
तो अगली बार जब भी  वित्तीय मामलों पर चर्चा हो तो यह कहकर नजरअंदाज मत करें कि ये उनका  काम है या इससे मेरा कोई लेना देना नहीं है | फाइनेंसियल तौर पर independence  होने का मरलब अच्छी नौकरी या ज्यादा पैसा कमाना नहीं इसका मतलब उसका उस फाइनेंसियल प्लानिंग तक आपकी पहुँच होनी चाहिए जो आपके पति ने कि है | 

One thought on “बजट बनाने के अलावा महिलाएं बहुत कुछ कर सकती हैं”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *