राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC) योजना

राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र  (NSC) योजना

सरकार द्वारा आम आदमी के के अन्दर एक बचत की आदत को बढ़ावा देने और उस बचत पर एक अच्छा ब्याज देने के लिए राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC) योजना शुरू किया गया है | इस योजना में जमा राशि डाकघरों के माध्यम से स्वीकार्य किया जाता है और उसका उपयोग देश के विकास कार्यों में किये जाता है | यह सर्टिफिकेट 100, 500, 1000, 5,000 या 10,000 रुपये के मूल्य वर्ग में उपलब्ध है।

इस योजना में जमा को प्रोत्साहित करने के लिए सरकार राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC) को धारा 80C के अंतर्गत कटौती की सुविधा देती है, जिससे करदाता हो निवेश के साथ ही कर बचत करने का अवसर भी मिलता है |

राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC) कैसे काम करता है?


राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC) 5 वर्ष और 10 वर्ष के लिए खरीदा जा सकता है लेकिन इसपर ब्याज की गणना प्रतेक वर्ष किया जाता है और उसका भी निवेश कर दिया जाता है |

राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC) के निम्न तीन प्रकार हैं

1-       Single Holder Type Certificate

2-      Joint ‘A’ Holder Type  Certificate

राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC) की विशेषताएं

  • ये प्रमाणपत्र व्यक्तिगत रूप में या संयुक्त रूप से  खरीदा जा सकता है | निम्नतम 100 रुपये निवेश किया जा सकता है |
  • राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC) के अंतर्गत अधिकतम निवेश की कोई सीमा नहीं निर्धारित नहीं है |
  • इसमें निवेश निर्धारित राशि में ही किया जा सकता है जो- 100, 500, 1000, 5,000, और 10,000 रुपये निर्धारित है | 
  • यह योजन केवल व्यक्तियों के लिए है इसमे HUF, फर्म अथवा कंपनी निवेश नहीं कर सकते है|
  • अवस्क के लिए उसका अभिभावक राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC) ले सकता है |
  • निवेशित राशि को प्राथमिक NSC धारक के मृत्यु के आलावा परिक्वता से पहले भुगतान नहीं लिए जा सकता है |
  • नॉमिनेशन सुविधा सभी प्रकार के NSC में उपलब्ध है |
  • NSC को उसी पोस्ट ऑफिस पर भुनाया जा सकता है जहाँ से ख़रीदा गया है, हाँ यदि NSC धारक पर्याप्त साक्ष्य प्रस्तुत करे तो किसी भी पोस्ट ऑफिस से भुनाया जा सकता है |

राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC) के लाभ

     यदि सही ढंग से प्रयोग किया जाये तो NSC में निवेशकर्ता को निम्न लाभ हो सकते है :-

     ·        ब्याज करमुक्त हो होगा
·     NSC में निवेश की कोई अधिकतम सीमा नहीं होने से आप कितना भी निवेश कर सकते हैं |
·     अगर आपने अपना सर्टिफिकेट खो दिया या छतिग्रस्त कर दिया तो डुप्लीकेट सर्टिफिकेट की व्यवस्था होती है |
·     आप के निवेश पर मिलने वाला ब्याज दुबारा उसी योजना में निवेशित कर दिया जाता है जिससे आप के बिना निवेश किये भी आप का निवेश बढ़ता जाता है |
·     जब प्रमाणपत्र परिपक्व हो जाता है तो आप पुनः उसे उसी योजना में निवेश कर सकते हैं |
·     प्रमाणपत्र किसी अवस्क के लिए भी लिया जा सकता है |
·     इस प्रमाणपत्र का प्रयोग लोन में सिक्योरिटीज के लिए प्रयोग किया जा सकता है

राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC) का ब्याजदर


जैसा की आप जानते हैं कि NSC दो प्रकार (5 वर्षीय और 10 वर्षीय ) का होता है, इसीलिए इसमें ब्याज में भिन्नता होती है | 5 वर्षीय NSC पर 8.5% वार्षिक और 10 वर्षीय NSC पर 8.8% वार्षिक निर्धारित है | ब्याज की गणना वार्षिक होती है लेकिन भुगतान केवल परिपक्वता के समय ही होता है |

NSC पर कराधान

Tax benefits on investment in NSC

जैसा की हमने चर्चा किया कि NSC में निवेश कर में छुट पाने के योग्य होता है | इसपर मिलने वाले छुट के लिए धरा 80C के अंतर्गत दावा किया जा सकता है जिसमें अधिकतम 1,50,000 का दावा प्रस्तुत किया जा सकता है, ध्यान रहे कि यदि आपने 1,50,000 का दावा NSC में ही प्रस्तुत कर दिया तो आप को पुनः किसी और योजना में सम्बंधित वर्ष के लिए कोई कर लाभा नहीं मिल सकता है |
उदहारण आगर आपने 2016 में 3,00,000 का निवेश NSC में कर दिया और आपने धरा 80C के अंतर्गत 1,50,000 का दावा प्रस्तुत कर दिया | आपने अन्य निवेश योजनाये जो धरा 80C में मान्य है निवेश किया है तो उसके लिए दावा प्रस्तुत नहीं कर सकते है |
अपरिपक्व NSC का धनाहरण (How to withdrawal from unmature NSC)

NSC से उसके परिपक्वता से पहले केवल निम्न परिस्थितियों में निकासी की जा सकती है :-
  • NSC धारक की मृत्यु हो गई हो
  • प्रमाणपत्र का धारक उसे एक प्प्रतिज्ञा के माध्यम से किसी दुसरे व्यक्ति से पाया हो |
  • न्यायलय से भुगतान का आदेश मिला हो |

अपरिपक्व NSC के धनाहरण की शर्तें

  •  गर भुगतान का दावा एक वर्ष के अन्दर ही प्रस्तुत कर दिया गया है तो केवल निवेशित राशि का ही भुगतान किया जायेगा |
  • अगर भुगतान का दावा 1-3 वर्ष के अदंर किया जाता है तो साधारण ब्याज का भुगतान किया जायेगा |
मित्रों यदि आपको ये लेख अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों में शेयर करें |
आप इसी तरह के लेख पढ़ने के लये इस पेज में सबसे ऊपर subscribe पर क्लिक कर अपना email लिख कर हमसे जुड़ सकते हैं |
आप निचे click करके हमें YouTube और Facebook पर Follow कर सकते हैं |

One thought on “राष्ट्रीय बचत प्रमाणपत्र (NSC) योजना

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *