5 उपाय, जो करेंगे आर्थिक रूप से करेंगे आपके परिवार की रक्षा

5 उपाय, जो करेंगे आर्थिक रूप से करेंगे आपके परिवार की रक्षा


 आजकल आर्थिक योजना बनाना हर परिवार की जरूरत बन चुका है। कई मामलो में देखा गया है कि कोई व्यक्ति Financial Planning नहीं करता है तो उसकी तमाम बचत अचानक किसी के इलाज में या फिर किसी आकस्मिक घटना के कारण खर्च हो जाती है।
बचत करना सबसे नियमित और कठिन काम है और जब मेहनत की कमाई से बचाए गए पैसे अचानक आई विपत्ति में खर्च हो जाएं तो व्यक्ति और उसका परिवार बहुत कष्ट में चला जाता है । इसीलिए हम आपको कुछ ऐसे तरीके बताएंगे कि आप बिना अपनी बचत का पैसा खर्च किए ऐसी मुश्किलों से आसानी से निपट सकते हैं।

स्वास्थ्य बीमा (Health Insurance)


अक्सर हम स्वस्थ बीमा कि बात करते हैं तो लोग समझते हैं कि इसमें तो कुछ वापस मिलता नहीं है, ये बेकार है लेकिन किसी  भी परिवार के लिए एक स्वास्थ्य बीमा बहुत ही जरूरी है। गंभीर बीमारियों में या फिर अचानक आये विपत्ति में होने वाले बड़े खर्चों को स्वास्थ्य बीमा के जरिए कम किया जा सकता है। हम आपको  एक उदाहरण से समझाते हैं ! किसी व्यक्ति को अचानक से पता चलता है कि वो कैंसर से पीड़ित है ऐसे में उसके इलाज में आने वाला खर्च बहुत ही अधिक होगा  और हो सकता है बिना स्वस्थ बीमा के वो अपना इलाज ना करा पाए । और अगर व्यक्ति ने स्वास्थ्य  बीमा लिया होगा तो वह तो इस खर्चे से बचा जा सकता है और अपना इलाज सर्वोत्तम अस्पताल में करा सकता है |

उत्तराधिकारी (Nominee) जरूर बनाएं

आप जो भी संपत्ति है या कोई निवेश किये हैं उसके लिए अपना Nominee जरूर चुनें । आप इस बात को निश्चित रूप से आपने अपनी संपत्ति को लेकर उत्तराधिकारी का चुनाव कर लिया है। इससे ये फायदा होगा कि व्यक्ति के साथ कोई अनहोनी होने पर उसके उत्तराधिकारी को किसी परेशानी का सामना नहीं करना पड़ेगा |

वसीयत


अगर आप परिवार के मुखिया हैं तो आपको वसीयत जरूर बनवा लेनी चाहिए । इस वसीयत में अपनी चल और अचल संपत्ति का पूरा विवरण देते हुए  वसीयत में किसे उत्तराधिकारी बनाना है और किसे संपत्ति का हिस्सा देना है यह भी स्पष्ट कर देना चाहिए। आज के दौर में वसीयत बनाना कोई कठिन कार्य नहीं है और ये काम आसानी से कम पैसों में अपने वकील से संपर्क करके हो जाता है। वसीयत बनाने का सबसे बड़ा फायदा ये है कि इससे किसी व्यक्ति की मृत्यु के बाद उसकी संपत्ति पर हक को लेकर बेवजह की कलह नहीं होती है।

सभी संपर्कों के बारे में विवरण जमा करना

आपको अपने सभी संपर्कों के विवरण को सेहज कर रखना चाहिए। चाहे वह आपको अपने सभी वित्तीय संपर्कों जैसे Insurance Agent हो, बैंकर हो, Mutual Fund Scheme agent को सेहज कर रखना चाहिए या फिर आपकी वसीयत को रखने वाले वकील हों इनके अलावा सभी वित्तीय कागजात अपनी और अपने परिवार कि जानकरी में रखें। इसके अलावा ये सभी दस्तावेज और संपर्क अपने नॉमिनी को भी दे सकते हैं। इससे किसी अनहोनी की स्थिति में विवाद और परेशानी से बच सकते हैं।

बीमा जरूर कराएं


बीमा कराने से पहले आपको बाजार में आई तमाम बीमा पॉलिसी को अच्छे से समझल लेना चाहिए। फिर उसी हिसाब से बीमा पॉलिसी लेनी चाहिए। सावधि बीमा योजना में आपको पर्याप्त बीमा कवरेज मिलता है जबकि इसमें आपके द्वारा दिया गया प्रीमियम वापस नहीं मिलता। वहीं मिश्रित बीमा योजना में आपके जीवित रहने पर आपको प्रीमियम की राशि का भुगतान किया जाता है साथ ही उसमें निहित ब्याज भी दिया जाता है। ध्यान रहे Term Insurance नए ज़माने का एक smart विकल्प साबित हो रहा है |
इसे भी पढ़ें :
1- बजट बनाने के अलावा महिलाएं बहुत कुछ कर सकती हैं
2- What is SIP (Systemetic Investment Plan) | SIP क्या होता है

मित्रों यदि आपको ये लेख अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों में शेयर करें | आप इसी तरह के लेख पढ़ने के लये इस पेज में सबसे ऊपर subscribe पर क्लिक कर अपना email लिख कर हमसे जुड़ सकते हैं | आप निचे click करके हमें YouTube और Facebook पर Follow कर सकते हैं |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *