How to pause SIP (SIP को कुछ समय के लिए कैसे ‘विराम ’दें )

How to pause SIP (SIP को कुछ समय के लिए कैसे ‘विराम ’दें )

www.moneysanchay.com
www.moneysanchay.com 

Systematic Investment plan (SIP) को इस तरह से तैयार किया जाता है, कि यह Application Form में  दी गई आखिरी तारीख तक जारी रहे। कुछ Mutual Fund अब तय समय के बाद इसमें ‘Pause’ का विकल्प भी दे रहे हैं। इससे निवेशक की निवेश की आदत बनी रहती है और कुछ समय के लिए उसे Temporary Liquidity  (Cash) भी मिलती है। ‘Pause’ अवधि के बाद SIP अपने आप फिर से शुरू हो जाता है।

Pause Period:-

 SIP को कुछ समय के लिए ‘Pause’ किया जा सकता है। यह समय एसेट मैनेजमेंट कंपनी तय करती है।

Form:

इसके लिए इनवेस्टर का SIP Pause Form को भरना जरूरी है। इसे ऐसेट मैनेजमेंट कंपनी या इन्वेस्टर सर्विस सेंटर से लिया जा सकता है। फॉर्म को Mutual Fund की वेबसाइट से डाउनलोड भी किया जा सकता है।

डीटेल्स:


फॉर्म में ‘Pause’ किस तारीख से शुरू होगा और कब समाप्त होगा, इसका साफ-साफ जिक्र करना जरूरी है। फॉर्म में मौजूदा SIP की डीटेल की भी मांग की जाती है। इसमें इन्वेस्टर का नाम और फोलियो नंबर का जिक्र भी जरूरी है। सभी यूनिट होल्डर्स के लिए SIP Pause फॉर्म पर साइन करना अनिवार्य है।

इसे भी पढ़ें :
1- करोरपति बनना है तो अपनाएं ये उपाय 
2- RTGS, NEFT, IMPS में क्या अंतर है ?
3- जानें Debit Card और Credit Card के बारे में
4– बजट बनाने के अलावा महिलाएं बहुत कुछ कर सकती हैं
5– What is SIP (Systemetic Investment Plan) | SIP क्या होता है

बैंक मैंडेट:

फॉर्म में बैंक मैंडेट भी देना जरूरी है। इसके जरिए ऐसेट मैनेजमेंट कंपनी बैंक को ‘Pause’ पीरियड के दौरान अकाउंट से पैसा नहीं काटने की जानकारी देती है।

फॉर्म को जमा करना:


SIP Pause फॉर्म को पॉज के समय से कम-से-कम एक महीना पहले ऐसेट मैनेजमेंट कंपनी के पास जमा कराना जरूरी है। इस फॉर्म को ऐसेट मैनेजमेंट कंपनी के किसी ब्रांच ऑफिस में जमा कराया जा सकता है।

SIP फिर से शुरू होना :-

Pause Period खत्म होने के बाद SIP अपने आप शुरू हो जाता है।

ध्यान देने योग्य बातें :-


सभी ऐसेट मैनेजमेंट कंपनियां ‘Pause’ सुविधा  नहीं देतीं। जब आप SIP के लिए रजिस्ट्रेशन करा रहे हों, तभी इस बारे में पूछताछ कर लें।
म्यूचुअल फंड्स इन्वेस्टर्स को निवेश अवधि  के दौरान सिर्फ एक बार पॉज का ऑप्शन देते हैं।
जो इनवेस्टर्स स्टॉक एक्सचेंज या ऑनलाइन डिस्ट्रीब्यूटर या पोर्टल के जरिये निवेश कर रहे हैं, उनके लिए यह ऑप्शन नहीं है।

मित्रों यदि आपको ये लेख अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों में शेयर करें |
आप इसी तरह के लेख पढ़ने के लये इस पेज में सबसे ऊपर subscribe पर क्लिक कर अपना email लिख कर हमसे जुड़ सकते हैं |
आप निचे click करके हमें YouTube और Facebook पर Follow कर सकते हैं |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *