RBI ने कहा सभी प्रकार के 10 के सिक्के वैध हैं ! - Money Sanchay

RBI ने कहा सभी प्रकार के 10 के सिक्के वैध हैं !

10 रुपये के सभी सिक्के वैध, अलग-अलग डिजाइन के सिक्के बाजार में मौजूद : RBI

 देश में दस रुपये के विभिन्न प्रकार के सिक्कों पर जनता के बीच भ्रम की स्थिति की फैलती रहती है इसको लेकर भारतीय रिजर्व बैंक ने स्पष्ट किया है कि कोई भी सिक्का अमान्य नहीं है और सभी सिक्के चलन में हैं. ये समय समय पर जारी किये गये अलग अलग डिजाइनों के सिक्के हैं.

RBI का कहना है कि शेरावाली की फोटो वाला सिक्का, संसद की तस्वीर वाला सिक्का, बीच में संख्या में ‘10’ लिखा हुआ सिक्का, होमी भाभा की तस्वीर वाला सिक्का, महात्मा गांधी की तस्वीर वाला सिक्का सहित अन्य सभी सिक्के मान्य हैं. केन्द्रीय बैंक के अनुसार इन सिक्कों को विभिन्न विशेष मौकों पर जारी किया गया है.

ध्यान देने योग्य बात ये  है कि दस रुपये के सिक्कों के लेनदेन को लेकर लोगों के बीच अक्सर विवाद खड़ा हो जाता है. ज्यादातर लोगों का कहना है कि दस पत्ती वाला वही सिक्का मान्य है जिसमें 10 का अंक नीचे की तरफ लिखा है और दूसरी तरफ शेर का अशोक स्तंभ अंकित है. केन्द्रीय बैंक ने इस संबंध में स्पष्ट रूप से कहा है कि दस रूपये के सभी सिक्के वैध और मान्य  हैं.


 ‘‘भारत की वैध मुद्रा को लेने से इनकार करने पर राजद्रोह का मामला बनता है और जो ऐसा करता है उसके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 124 :1: के तहत मामला दर्ज हो सकता है क्योंकि मुद्रा पर भारत सरकार वचन देती है. इसको लेने से इनकार करना राजद्रोह है.’’ राष्ट्रीय राजधानी सहित देश के कई हिस्सों में दस रूपये के सिक्को को लेकर भ्रम की स्थिति है और कई दुकानदार और लोग इन सिक्कों को लेने से कतरा रहे हैं.

सबसे ज्यादा विवाद उस सिक्के पर है जिसके बीच में ‘10’ लिखा है और इसे नकली कहा जा रहा है. लेकिन आरबीआई की ओर से एक जानकारी दी गयी है कि यह सिक्का 26 मार्च 2009 को जारी किया गया था.

इसे भी पढ़ें :


आरबीआई ने कहा है कि केंद्रीय बैंक ने वक्त वक्त पर आर्थिक, सामाजिक और सांस्कृतिक थीम पर सिक्के जारी किए हैं और सिक्कों में 2011 में रुपये का चिह्न शामिल करने के बाद बदलाव आया. सिक्के लंबे समय तक सही रहते हैं इसलिए यह मुमकिन है कि बाजार में अलग अलग डिजाइन और छवि के सिक्के हों, जिनमें बिना ‘रुपये’ के चिह्न वाले सिक्के भी शामिल हैं. हालांकि आरबीआई ने किसी का भी लीगल टेंडर वापस नहीं लिया है और सारे सिक्के वैध हैं.


मित्रों यदि आपको ये लेख अच्छा लगा हो तो अपने दोस्तों में शेयर करें |
आप इसी तरह के लेख पढ़ने के लये इस पेज में सबसे ऊपर subscribe पर क्लिक कर अपना email लिख कर हमसे जुड़ सकते हैं |

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *